More stocks, discounts returning to shelves

They are increasing promotional spends in the upcoming festive season by 10-15% over last year’s festive quarter and stocking up additional inventory, executives in some large FMCG companies told ET.

They are increasing promotional spends in the upcoming festive season by 10-15% over last year’s festive quarter and stocking up additional inventory, executives in some large FMCG companies told ET.

लाजपोर जेल में 500 रुपये देकर कैदियों के साथ मुलाकात का समय बढ़वा सकते हैं आगंतुक, विडियो वायरल

हाथ में पैसे लेकर लाजपोर सेंट्रल जेल (LCJ) के विजिटर्स रूम में बैठी एक महिला का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। विडियो ने जेल प्रशासन के कड़ी सुरक्षा के दावे की खोली पोल दी है। कुल छह वीडियो शूट कर सोशल मीडिया पर शेयर किए गए हैं। विडियो में एक व्यक्ति को आरोप लगाते हुए सुना जा सकता है कि महिला उन लोगों से 500 रुपये ले रही थी, जो कैदी से मुलाकात के लिए अतिरिक्त समय चाहते हैं। विडियो में महिला हाथ में नकदी और पैरों के बीच एक बैग के साथ मेज पर बैठी है। विडियो बनाने वाले शख्स ने एक महिला की ऑडियो बातचीत को रिकॉर्ड करते हुए कहा कि उसे जेल परिसर के बाहर से पैसे मिलेंगे।

हाथ में पैसे लेकर लाजपोर सेंट्रल जेल (LCJ) के विजिटर्स रूम में बैठी एक महिला का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। विडियो ने जेल प्रशासन के कड़ी सुरक्षा के दावे की खोली पोल दी है। कुल छह वीडियो शूट कर सोशल मीडिया पर शेयर किए गए हैं। विडियो में एक व्यक्ति को आरोप लगाते हुए सुना जा सकता है कि महिला उन लोगों से 500 रुपये ले रही थी, जो कैदी से मुलाकात के लिए अतिरिक्त समय चाहते हैं। विडियो में महिला हाथ में नकदी और पैरों के बीच एक बैग के साथ मेज पर बैठी है। विडियो बनाने वाले शख्स ने एक महिला की ऑडियो बातचीत को रिकॉर्ड करते हुए कहा कि उसे जेल परिसर के बाहर से पैसे मिलेंगे।


Car loans hit a bump as lenders tighten norms

NBFCs, which in a normal year disburse Rs 25,000 crore to Rs 30,000 crore, used relatively easy CIBIL criteria to lend. Now, their customers are struggling to get alternative sources of funding.

NBFCs, which in a normal year disburse Rs 25,000 crore to Rs 30,000 crore, used relatively easy CIBIL criteria to lend. Now, their customers are struggling to get alternative sources of funding.